Friday , March 22 2019
Breaking News
Home / Elections / General Elections - 2019 / 2019 का चुनाव पानीपत की लड़ाई की तरह, हर हाल में जीतना है: अम‍ित शाह
Bjp-president-Amit-Shah
Bjp-president-Amit-Shah

2019 का चुनाव पानीपत की लड़ाई की तरह, हर हाल में जीतना है: अम‍ित शाह

अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधि‍त करते हुए कहा क‍ि शार्टकट राजनीति में उपर नहीं, बल्कि नीचे ले जाता है. बीजेपी में जो मांगता है उसको कभी नहीं मिलता, जो नहीं मांगता उसके घर पर बैठे मिलता है और 100 साल तक ये पार्टी ऐसे ही चलती रहेगी. अगर हम पानीपत की लड़ाई नहीं हारते तो देश में अंग्रेजों का शासन कभी न आता. 2019 का चुनाव पानीपत की लड़ाई जैसा है.

अम‍ित शाह ने पार्टी की नीत‍ि के बारे में बोलते हुए कहा क‍ि बीजेपी में जो मांगता है उसको कभी नहीं मिलता, जो नहीं मांगता उसके घर पर बैठे मिलता है और 100 साल तक ये पार्टी ऐसे ही चलती रहेगी. 2019 का चुनाव महत्वपूर्ण चुनाव है. देश के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है इसको युद्ध की तरह लड़ना है. कुछ युद्ध ऐसे होते है जो युग परिवर्तनकारी होते हैं और 2019 का चुनाव वैसा ही युग परिवर्तनकारी होगा. इस युद्ध में आप युवा मोर्चा के लोगों की बहुत बड़ी  भूमिका है.

शाह ने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा क‍ि बीजेपी का कार्यकर्ता जय और पराजय से न तो उत्साहित  होता है न विचलित. ऐसा अगर होता तो बीजेपी का कब का विभाजन हो गया होता. बीजेपी 2 सीट से यहां तक पहुंची पर आज तक विभाजन नहीं हुआ. सबसे ज्यादा विधायक सांसद पार्षद पंचायत सदस्य बीजेपी के हैं.

व‍िरोध‍ियों पर न‍िशाना साधते हुए शाह बोले क‍ि 019 का चुनाव में दो खेमे लड़ रहे हैं. पहला मोदीजी की अगुवाई में सशक्त खेमा. दूसरी तरफ सत्ता के लालची लोगों का मोर्चा. अगर हम पानीपत की लड़ाई नहीं हारते तो देश में अंग्रेजों का शासन कभी न आता. 2019 का चुनाव पानीपत की लड़ाई जैसा है. आज हमारे सारे विरोधी एकत्रित हो गए है पर मैं विरोधियों से डरता नहीं हूं.

विचारधारा की लड़ाई 25 साल पीछे चली जाएगी

अम‍ित शाह ने भव‍िष्य की बारे में बोलते हुए कहा क‍ि एक पानीपत का युद्ध हारने से 200 साल की गुलामी आ गई थी, वैसे ही बीजेपी 2019 का चुनाव जीतती है तो 50 साल तक संसद से लेकर पंचायत तक 50 साल तक बीजेपी का शासन रहेगा. 2019 में विरोधियों के अस्तित्व पर सवाल खड़ा हो जाएगा. 50 साल तक हमको कोई नहीं रोक पाएगा पर अगर हम 2019 की लड़ाई हार गए तो हमारी विचारधारा की लड़ाई 25 साल पीछे चली जाएगी.

गठबंधन को ढकोसला बताते हुए शाह बोले क‍ि विचारधारा और देश के भविष्य के लिए 2019 का चुनाव महत्वपूर्ण है. मायावती कहती है हमको मजबूत नहीं मजबूर सरकार चाहिए. आज सबकी दुकाने बंद हो गई हैं. गठबंधन से कुछ नहीं होने वाला है. ये गठबंधन ढकोसला है, इससे कुछ नहीं होने वाला है.

गठबंधन का न नेता है न नीति है

गठबंधन की नीत‍ियों पर सवाल उठाते हुए अम‍ित शाह बोले क‍ि अखिलेश यादव, ममता, चंद्रबाबू  नायडू … सब अपने-अपने राज्य के नेता हैं. दूसरे राज्यों में इनके आने से कुछ नहीं होगा. इन सबको हराकर हम 2014 में सत्ता में आए. गठबंधन का न नेता है न नीति है. ये कैसे चुनाव जीतेंगे? यूपी में जब गठबंधन का असर नहीं पड़ रहा तो देश में क्या पडे़गा? यूपी में सपा-बसपा- कांग्रेस कितना भी इकट्ठा हो जाए, हमारी सीटें 73 से 74 होगीं पर 72 नहीं होगी. जब यूपी में गठबंधन का असर नहीं होने वाला तो दूसरे राज्य में क्या होगा. मोदी तपस्वी की तरह काम करते है, उनके जीवन में कभी दाग नहीं लगा.

जेएनयू में देश विरोधी बातों का संदर्भ देते हुए शाह बोले क‍ि 2019 में राहुल गांधी और कांग्रेस का परिवारवादी कुनबा हमको चैलेंज करेगा? जेएनयू में देशविरोधी नारे लगाने वाले का समर्थन करने वाले को जनता समर्थन करेगी? कभी नहीं. हमारी सरकार आने पर घुसपैठियों को कश्मीर से कन्याकुमारी और कोलकाता से कच्छ तक देश से बाहर करेंगे, ये हमारा कमिटमेंट है.

राफेल पर सुप्रीम कोर्ट ने दूध का दूध और पानी कर दिया

राफेल पर बोलते हुए अम‍ित ने शाह क‍ि अर्बन माओइज्म का समर्थन करने वाली कांग्रेस पार्टी देश की सुरक्षा की गारंटी कैसे देगी? राफेल पर झूठ के सहारे कांग्रेस ने देश को गुमराह किया. क्वात्रोकी और मिशेल.. न हमारा मामा है.. न चाचा है. राफेल पर सुप्रीम कोर्ट ने दूध का दूध और पानी कर दिया.

कार्यकर्ताओं को उत्साह‍ित करते हुए शाह बोले क‍ि बीजेपी के 9 करोड़ हमारे कार्यकर्ता है और देश के 22 करोड़  लोगों के लिए सरकार ने कुछ न कुछ दिया है. इन सभी 22 करोड़ लाभार्थियों के घर बीजेपी कार्यकर्ता  26 फरवरी दीप जलाकर ‘कमल दीपावली’ मनाएंगे. बीजेपी अंगद का पैर है जिसको हिलाना मुश्किल है.

बता दें क‍ि रविवार को अम‍ित शाह ने दिल्ली में भारतीय जनता युवा मोर्चा की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला ‘विजय लक्ष्य-2019’ में देशभर से आए युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया ज‍िसमें ये बातें कही गईं.

(Courtesy: Aajtak)

About Guru-Gyan

Check Also

Rahul gandhi-Mamta banarjee

राहुल गांधी को स्टालिन ने बताया प्रधानमंत्री उम्मीदवार तो ममता की भौहें तनीं

विपक्ष के भी कई नेता प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी के रूप में किसी का नाम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sharechef.net
This domain name expired on 2019-03-22 03:25:09
Click here to renew it.