Breaking News
Home / Politics / अनिल विज का AAP सरकार पर निशाना, कहा- न दिवाली, न पराली, फिर दिल्ली क्यों काली?
अनिल विज का AAP सरकार पर निशाना
अनिल विज का AAP सरकार पर निशाना

अनिल विज का AAP सरकार पर निशाना, कहा- न दिवाली, न पराली, फिर दिल्ली क्यों काली?

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने कई बार पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा पराली जाने जाने को दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का जिम्मेदार बताया है.

दिल्ली में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण के स्तर को लेकर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री ने मंगलवार को कहा, ‘न इस समय दिवाली है और न ही कहीं पराली जलाई जा रही है, फिर भी प्रदूषण से दिल्ली काली हुई जा रही है.’

अनिल विज ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘न है पटाखों की दिवाली, न कहीं जल रही पराली, फिर क्यों है दिल्ली प्रदूषण से काली, क्या कर रही आप पार्टी बकवाली.’

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने कई बार पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा पराली जाने जाने को दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का जिम्मेदार बताया है.

बता दें कि दिल्ली में हवा की गुणवत्ता फिर खराब हो गई है. वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में जाने के बाद केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड(सीपीसीबी) के टास्क फोर्स ने रविवार को लोगों को सलाह दी है कि वे अगले तीन से पांच दिन तक घर से बाहर निकलने से बचे. साथ ही निजी गाड़ियों का इस्तेमाल कम से कम करें.

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में रविवार को साल में दूसरी बार प्रदूषण का स्तर सबसे ज्यादा रहा. मौसम संबंधी स्थितियों की वजह से आगामी कुछ दिनों तक दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी रह सकती है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़े बताते हैं कि समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 446 रहा जो ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है. केंद्र के वायु गुणवत्ता व मौसम पूर्वानुमान प्रणाली (सफर) के आंकड़ों में यह 471 रहा.

वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसके लिए केंद्र सरकार को ज़िम्मेदार ठहराया है. साथ ही उन्होंने इस बात के संकेत भी दिए कि दिल्ली में जल्द ही ऑड ईवन फॉर्मूला लागू कर सकती है.

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की रोकथाम पर केजरीवाल ने कहा, ‘प्रदूषण को कम करने के लिए हम पिछले एक साल से केंद्र सरकार से बात कर रहे हैं. अगर सच में प्रदूषण पर काबू पाना है तो हमें पड़ोसी राज्यों से बातचीत करनी होगी. केंद्र को ये काम करना चाहिए. जब भी जरूरत पड़ेगी हम ऑड ईवन फार्मूला लागू करेंगे.’

(Courtesy: News18)

About Guru-Gyan

Check Also

चुनाव से पहले अंतरिम बजट

चुनाव से पहले अंतरिम बजट, मोदी सरकार कर सकती है ये 5 बड़े ऐलान

अगले दो महीने के बाद देश में आम चुनाव होने है, लेकिन इससे पहले 1 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *